एक पत्र-एक परिचय

एक कल की कल्पना…

सन् 1995 में जनमा एक शिशु ‘सरन हॉस्पिटल’ निरन्तर यौवन को प्राप्त करता गया। दृढ़ इच्छा शक्ति, क्षमता के आखिरी छोर तक की गयी मेहनत, मजबूत संकल्प ने यदि निरन्तर विकास का रास्ता दिखाया तो कुछ सृजनात्मक करने की भावना ने उस रास्ते पर चलाया। ईंट और सीमेन्ट से कोई इमारत तो बन सकती है, इमारत में कर्मचारियों को सम्मिलित करने से वो इमारत ‘संस्थान’ तो बन सकती है परन्तु उस संस्थान को सजीव करने के लिये मेहनत, लगन एवं दृढ़ संकल्प की ‘संजीवनी बूटी’ ही आधार है।

सरन हॉस्पिटल अपनी विकास यात्रा में पड़ाव पार करता हुआ बरेली के चिकित्सीय क्षेत्र में आज एक अपनी पहचान बना चुका है। यूं तो सभी सर्वश्रेष्ठ हैं परन्तु हॉस्पिटल श्रेष्ठता के मानक पर ‘नित नये सोपान’ की कल्पना को उद्देश्य मान कर ‘नित नये सवेरे ’ का स्वागत करता है। यह संस्थान नहीं आज एक परिवार है। उन रोगियों के लिये जिन्होंने यहाँ ‘जीवन दान’ पाया है, यह एक मन्दिर है। गहन चिकित्सा कक्ष, कृत्रिम श्वांस प्रणाली ;वेन्टीलेटर को रोहिलखण्ड क्षेत्र में सर्वप्रथम प्रारम्भ करने का श्रेय सरन हॉस्पिटल को जाता है।

सरन हॉस्पिटल अनुशासन की बुनियाद पर खड़ा है, नित ‘नई परिकल्पना’ हॉस्पिटल की दिशा है तो ‘निर्धारित किये उद्देश्य को प्राप्त करने के लिये ‘लगन एवं मेहनत की परिकाष्ठा तक पहुंचना हॉस्पिटल का एक सूत्रीय कार्यक्रम है।

‘चिकित्सीय सेवा’ एक मानवीय कार्य है। ‘शिक्षा प्रदान करना’ भी एक अत्यन्त मानवीय कार्य है। शिक्षा का प्रसार स्वयं में पुण्य कार्यों की श्रेणी में आता है। शिक्षा, ज्ञान, अनुभव सिर्फ अपने पास संजो कर रखने की वस्तु नंहीं। शिक्षा को विस्तार एवं प्रसार प्रदान करना ‘शिक्षा’ का सम्मान है। यह ही सोच है ‘सरन हॉस्पिटल’ की जिसने चिकित्सीय सेवा के बाद चिकित्सीय ‘शिक्षा के क्षेत्र’ में कदम रखा है।

अन्त में  शुभ चिन्तकों के प्यार, बुर्जगों के आशीर्वाद एवं ईश्वर की अनुकम्पा को आहृवान करते हुए यह ‘सरन हॉस्पिटल परिवार’ पुनः संकल्पित करता है, इस ‘सरन हास्पिटल’ को एक मानक के रूप में समर्पित करने के लिए।

73-A, Malgodam, Junction Road, Bareilly, Uttar Pradesh 243001

Call Us Now at

Call Us Now at

Email Us at

Email Us at

saranhospital@hotmail.com

Book Online

Book Online

Appointment Now